लगभग 50% भारतीय एमएसएमई पुराने दौर की बैंकिंग प्रणालियों के कारण समय बर्बाद करते हैं

लगभग 50% भारतीय एमएसएमई पुराने दौर की बैंकिंग प्रणालियों के कारण समय बर्बाद करते हैं

~एमएसएमई को समय और धन बचाने में मदद करने के उद्देश्य से, Tide और Transcorp ने RuPay-संचालित एक्सपेंस कार्ड लॉन्च करने के लिए साझेदारी की है~

एमएसएमई, भारतीय अर्थव्यवस्था में विकास और रोज़गार के सबसे मजबूत स्तम्भों में से एक रहे हैं। हालांकि पारंपरिक बैंकों में काग़ज़ी कार्रवाई, मैनुअल ऑपरेशन और ग्राहक सहायता में वह अपना काफी समय और पैसा व्यर्थ कर देते हैं। देश भर के 500 छोटे व्यवसाय मालिकों पर Tide द्वारा कराये गये हालिया सर्वे से पता चला कि 50% छोटी कंपनियां छोटे-मोटे कार्यों जैसे कि बैंक में नकद पैसा जमा करना आदि पर समय बर्बाद कर रहे हैं।

समय के प्रबंधन से जुड़ी दिक्कतों के लिए विशेषज्ञ फाइनेंस टीमों के अभाव और आधुनिक बैंकिंग समाधानों की तकनीकी समझ की कमी को भी ज़िम्मेदार ठहराया जा सकता है। भारत में एमएसएमई की चुनौतियों और जरूरतों का पता लगाने के लिए Tide द्वारा कराए गए सर्वे में पाया गया कि 62% एमएसएमई के पास एक समर्पित फाइनेंस टीम नहीं है।

सर्वेक्षण में शामिल विभिन्न भारतीय राज्यों से कुछ दिलचस्प जानकारियां यहां दी गई हैं:

  1. उत्तर प्रदेश में लगभग 90 लाख एमएसएमई है, जिसमें से 58% व्यवसाय मालिकों ने अपने मौजूदा बैंकों के अदृश्य शुल्क और लेनदेन की ट्रैकिंग को प्रमुख चुनौतियाँ बतलाया। लगभग 34% उद्यमों ने अपने व्यावसायिक बैंकिंग साझेदार से अधिक व्यक्तिगत सेवाओं की आवश्यकता की बात कही।
  2. बिहार में लगभग 34.46 लाख एमएसएमई है, जिसमें से 43% व्यवसाय मालिकों ने अपने मौजूदा बैंकों के अदृश्य शुल्क और लेनदेन की ट्रैकिंग को प्रमुख चुनौतियाँ बतलाया। लगभग 35% उद्यमों ने अपने व्यावसायिक बैंकिंग साझेदार से व्यक्तिगत सेवाओं की आवश्यकता की बात कही।
  3. राजस्थान में लगभग 26.87 लाख एमएसएमई है, जिसमें से 46% व्यवसाय मालिकों ने अपने मौजूदा बैंकों के अदृश्य शुल्क और लेनदेन की ट्रैकिंग को प्रमुख चुनौतियाँ बतलाया। लगभग 31% उद्यमों ने अपने व्यावसायिक बैंकिंग साझेदार से व्यक्तिगत सेवाओं की आवश्यकता की बात कही।
  4. गुजरात में लगभग 45 लाख एमएसएमई है, जिसमें से 50% व्यवसाय मालिकों ने अपने मौजूदा बैंकों के अदृश्य शुल्क और लेनदेन की ट्रैकिंग को प्रमुख चुनौतियाँ बतलाया। लगभग 27% उद्यमों ने अपने व्यावसायिक बैंकिंग साझेदार से व्यक्तिगत सेवाओं की आवश्यकता की बात कही।
  5. असम में लगभग 70 हज़ार एमएसएमई है, जिसमें से 58% व्यवसाय मालिकों ने अपने मौजूदा बैंकों के अदृश्य शुल्क और लेनदेन की ट्रैकिंग को प्रमुख चुनौतियाँ बतलाया। लगभग 60% उद्यमों ने अपने व्यावसायिक बैंकिंग साझेदार से व्यक्तिगत सेवाओं की आवश्यकता की बात कही।

इसे ध्यान में रखते हुए, ब्रिटेन के प्रमुख एसएमई-केंद्रित व्यावसायिक वित्तीय प्लैटफॉर्म, Tide – जिसने 2020 में भारत में परिचालन शुरू किया – ने भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा विनियमित प्राधिकृत डीलर श्रेणी II और स्थायी प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रुमेंट (पीपीआई) लाइसेंस धारक, 27-वर्षीय Transcorp International Limited के साथ साझेदारी करके को-ब्रांडेड प्रीपेड कार्ड्स (Tide एक्सपेंस कार्ड) को एंट्री प्रोडक्ट के रूप में लॉन्च किया है। यह सुविधा भारत के एसएमई को समय एवं धन की बचत करने में मदद करने और विविध आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए मिश्रित सेवाएं उपलब्ध कराने के Tide के दृष्टिकोण के अनुरूप है।

Tide, RuPay द्वारा संचालित Tide एक्सपेंस कार्ड के साथ Tide बिजनेस एकाउंट से शुरुआत करके भारत भर के छोटे व्यवसायों को भुगतान सेवाएं प्रदान करेगा। यह साझेदारी भारत के छोटे व्यवसायों का समय व धन बचाने में सहायता देने हेतु भारत के स्वदेशी भुगतान नेटवर्क RuPay की विशेषज्ञता, Transcorp की लंबे समय से चली आ रही प्रतिष्ठा और ब्रिटेन के एसएमई के साथ Tide के व्यापक अनुभव से सशक्त है। Tide ने इस साल के अंत में भारत के लिए अन्य भुगतान और व्यावसायिक सेवाएं भी लॉन्च करने की योजना बनाई है।

Tide (भारत) के वाइस प्रेसिडेंट, कुमार शेखर ने कहा, “Tide, उद्यमियों को उनके कार्यों में सहयोग प्रदान करने की इच्छा रखता है और हमारा यह मानना है कि हम बिल्कुल वैसा करने के लिए मज़बूत स्थिति में हैं। भारत में हम जैसे-जैसे आगे बढ़ेंगे, वैसे-वैसे हम उन छोटे व्यवसायों के लिए अपनी उत्पाद पेशकशों का विस्तार करते जाएंगे जो व्यवसाय शुरू करने के लिए बड़ा कदम उठाना चाहेंगे – चाहे वो कॉन्ट्रैक्टर हों, फ्रीलांसर हों, सोल ट्रेडर हों या छोटे व्यवसाय मालिक हों। को-ब्रांडेड प्रिपेड इंस्ट्रुमेंट्स के जारीकर्ता के रूप में भारी ख्याति वाला, Transcorp, Tide का सहयोगी है। Transcorp पहले ही अपने सहयोगियों के साथ सफलता का प्रदर्शन कर चुका है और Tide को इस उत्कृष्ट सूची में शामिल होने की प्रसन्नता है।

उपयोगकर्ता Tide ऐप के माध्यम से अपने Tide बिजनेस एकाउंट और Tide एक्सपेंस कार्ड को एक्टिवेट और प्रबंधित कर सकेंगे। इस ऐप का उपयोग पैसा लोड करने, पेमेंट कलेक्ट करने, खर्च की जाँच करने व अन्य सेवाओं के लिए भी किया जा सकेगा।

“Transcorp को डिजिटल भुगतान को सक्षम करने और भारत के सबसे बड़े व्यावसायिक समुदाय- एसएमई के बीच वित्तीय साक्षरता को बढ़ावा देने के लिए Tide के साथ साझेदारी की खुशी है। यह खंड भारत की आर्थिक रीढ़ है लेकिन यह वित्तीय रूप से सेवा-वंचित बना हुआ है। Tide के साथ, हमारा उद्देश्य उन्हें उत्कृष्ट उत्पादों और बेजोड़ सेवा प्रदान करके औपचारिक अर्थव्यवस्था में शामिल करना है।” – Transcorp के वाइस प्रेसिडेंट, अयान अग्रवाल ने यह बातें कहीं। “भारत के प्रमुख नॉन-बैंक कार्ड जारीकर्ता के रूप में, Transcorp भारतीय एसएमई के लिए वित्तीय समावेशन को सक्षम करने में गर्व महसूस करता है, और हितधारकों के अनुकूल माध्यम से अपने भागीदारों को सफलता प्रदान करने हेतु लगातार प्रयासरत है।”

नई शुरुआत करने वाले छोटे व्यवसाय अपने दैनिक लेनदेन और खर्चों के लिए व्यावसायिक खातों को सहायक पाएंगे। पूरी तरह से डिजिटल होने के नाते, Tide का बिजनेस एकाउंट सिर्फ परेशानी मुक्त ही नहीं है, बल्कि सुरक्षित भी है और यह उपयोगकर्ताओं की गोपनीयता की रक्षा करता है।

अगले वर्ष, Tide ने अपने सदस्यों के लिए आरबीआई – लाइसेंस प्राप्त बैंक के सहयोग से फंड ट्रांसफर, चालान, GST और लिंक और क्रेडिट सेवाओं द्वारा भुगतान, बिजनेस सेविंग्स/करंट अकाउंट जैसी कुछ अन्य सुविधाएं पेश करने की योजना बनाई है।

Prateek Joshi

Content & Social Media Manager at Tide

Tide Team

Image of Tide card

A business bank account that's free, easy to open, and helps you start doing what you love.

Tide is about doing what you love. That’s why we’re trusted by 75,000+ UK businesses.